Sunday, April 3, 2022

गांव-गांव कर रही जागरूकता अभियान राज्य पेयजल एवं स्वच्छता‌ मिशन


स्वच्छ पेयजल की समस्या आज पूरे भारत में पैर पसार रही है और स्वच्छता की कमी लोगों के जनजीवन को गंभीर रोगों के हवाले कर रहे हैं इस गंभीर समस्या को देखते हुए राज्य स्तर पर चलाए जा रहे कार्यक्रम पेयजल एवं स्वच्छता मिशन को बढ़ाने एवं जन जन तक इसकी बात पहुंचाने के लिए मान चित्र व सोशल मैपिंग व नुक्कड़ नाटक के माध्यम से एनजीओ के तहत गांव गांव जागरूकता अभियान चलाएं जा रहे हैं इस क्रम में जन जागरूकता की टीम आज टिमिलपर सकलडीहा मैं पहुंची और लोगों को मानचित्र के माध्यम से गांव का परिदृश्य बनाकर के गांव में किस तरह से बाहर जाने वाले मल मूत्र घर तक कैसे आटोमेटिक पहुंच जाते हैं और हमें बीमारियों का शिकार हो जाते है यह बात भली-भांति इकट्ठी हुई भीड़ को समझाई गई इसमें पुरुष व महिला काफी संख्या में गांव के उपस्थित रहे मौके पर प्रधान प्रतिनिधि अशोक कुमार संघ पत्रकार प्रवीण श्रीवास्तव संघ बहुत सारे माननीय जनता गढ़ ग्राम वासी उपस्थित रहे इस टीम में मुख्य रूप से प्रशिक्षण कर्ता पंडित राकेश कुमार शर्मा जी मानचित्र के माध्यम से लोगों को समझाते हुए नजर आए उनकी टीम ने और उनके सहयोगियों ने प्रोजेक्टर के माध्यम से जल संरक्षण व स्वच्छता के प्रचार का भी माध्यम संचालित किया जिसको लोगों ने बहुत सराहा पंडित राकेश कुमार शर्मा के साथ कोडिमीटर मनोज यादव दीनानाथ यादव भी उपस्थित रहे। पंडित राकेश कुमार शर्मा ने बताया कि हम लोग मानचित्र सोशल मैपिंग व नुक्कड़ नाटक के जरिए सभी को स्वच्छता के पाठ को इन माध्यमों से जनता के बीच में जगरूप फैलाने का कार्य कर रहे हैं जिसमें जनता का सहयोग सराहनीय है अगर हर घर में शौचालय का उपयोग हो वह जागरूकता के जरिए जो निर्देश दिए जा रहे हैं उनका पालन हो तो अवश्य ही हमारा देश स्वच्छता के समीप व शुद्ध पेयजल के आपूर्ति को पूर्ण कर लेगा।

Wednesday, March 30, 2022

सम्पादकीय ---------- विकसित गांव व शहरों को नियंत्रित कॉलोनी व विकास प्राधिकरण की आवश्यकता

[16:21, 3/30/2022] HindustanNews24: यह बात अब समझने की है कि हमारी आबादी के अनुसार गांव में रहन-सहन की माग बढ़ रही है जिसके कारण गांव व शहरों की खूबसूरती में विकार आ रहा है आबादी के अनुसार नए नए मकानों की स्थापना वह नए-नए जगहों के अनुसार नई-नई उपलब्धियां बढ़ रही है लेकिन वह व्यवस्थित व सुंदरीकरण के और अग्रसारित नहीं है शहरों में तो लगभग बिना परमिशन के मकान बनाना संभव नहीं है लेकिन गांव और कस्बों में यह देखा जा रहा है कि लोग अनियंत्रित ढंग से घरों का निर्माण कर रहे हैं जिससे बाद में पानी निकासी व सड़क व गलियों की दूर्व्यवस्था सामने बहुत ही गंभीर समस्या के रूप में प्रकट हो रही है इसके लिए सरकार को अब एक निश्चित रूप से विदेशों के नीति को अथवा अपनी कोई नीति के अनुसार विशेष कालोनियों का निर्माण करना चाहिए ताकि सड़क जल निकासी का प्रबंधन नियमानुसार व व्यवस्थित करके अच्छी-अच्छी कालोनियों का विकास किया जा सके अनियंत्रित विकास के कारण लोगों को आने जाने के मार्ग में दिक्कत परेशानियां हो रही है वह आए दिन उनके बीच झगड़ों व अवस्था का दुष्प्रभाव देखने को मिलता रहता है अब यह कानून धीरे-धीरे शहरों से गांव में भी विकसित करने चाहिए कि लोग व्यवस्थित ढंग से निर्मित मकानों को ढंग से बनाए ताकि रास्तों का निर्माण व गलियों का निर्माण इतने बेहतर ढंग से हो और उन शहर और कस्बों और गांवों की सुंदरता बढ़ती जाए ताकि हमें कल अव्यस्थाओं का सामना ना करना पड़े इसलिए सरकार को अब इतने बड़े आबादी के साथ अपने व्यवस्थित प्रणाली को भी विकसित करना चाहिए यह नियम और कानून के साथ लोगों के बीच में प्रस्तुत करना चाहिए और लोगों को इसका पालन करने पर भी विचार करना चाहिए ताकि हमारा समाज बेहतर व संगठित सुंदर वह दिग्दर्शक के रूप में प्रस्तुत हो सके।

HindustanNews24: कौन देता है भारी वाहनों को चलने का परमिशन कैसे अवैध रूप से एंट्री कर जाते हैं भारी वाहन

[16:05, 3/30/2022]
अवगत कराना है कि इस वक्त सकलडीहा के उप जिलाधिकारी महोदय अजय कुमार मिश्रा जी धड़ल्ले से भारी वाहनों की धरपकड़ कर रहे हैं इस बात की उन्हें शिकायत भी मिलती रहती है और आईजीआरएस पर इसके कई मामले पड़े हुए हैं इस बाबत कुछ दिनों से उप जिलाधिकारी इन भारी वाहनों का धरपकड़ कर रहे हैं लेकिन ऐसा कार्य लगभग हर साल में एक दो बार कोई भी आला अधिकारी जरूर करता है लेकिन उसका रिजल्ट क्या है कि भारी वाहन इन थानों में कुछ दिनों के लिए बंद होती हैं और फिर रास्ते पर चल देती है आखिर इन भारी वाहनों का और अवैध रूप से नो एंट्री में घुसकर और मानक के अनुरूप सड़क ना होने के बावजूद इन पर चलाई जाती है आखिर जनता के जानमाल से ऐसा खिलवाड़ क्यों है और इनका यह खेल किसके इशारे पर चलता है और इसका परमिशन ही क्यों होता है परमिशन नहीं है तो यह अवैध रूप से नो एंट्री में घुस कैसे जाती हैं यह एक लोकतंत्र पर बड़ा सवाल है क्या यह अधिकारी अपने मन से इन्हें छोड़ते पकड़ते रहते हैं या जनता को बेवकूफ समझ रखा है अब तो इसका सवाल और जवाब जनता के बीच अधिकारियों को ही देना चाहिए खुलकर जनता की अदालत और जनता के बीच में इन बातों की चर्चा जरूर होनी चाहिए लेकिन यह लोकतंत्र कब आएगा और ऐसे सवालों का जवाब अधिकारी कब देंगे अब यह तो समय ही बताएगा।

Friday, March 25, 2022

रेलवे ट्रैक पार करते समय ओढ़ौली सकलडीहा के नवयुवक की मौत

कल दिनांक 25/03/2022 को लगभग 11बजे दिन की घटना बताई गयी ओडौली गांव के युवक की ट्रेन से कटकर मौके पर ही मौत हो गयी जिसकी पहचान  धर्मेन्द्र राय स्व रामा राय ग्राम ओडौली सकलडीहा के  रूप में की गयी।

Wednesday, March 9, 2022

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के रोड़का कार्यपूर्ण होने के कगार पर

सकलडीहा। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सकलडीहा पर इन दिनों विकास कार प्रगति पर है इसी कड़ी में जहां हॉस्पिटल के अंदर भी विकास कार्य हो रहे हैं रूम बन रहे हैं शौचालय बन रहे हैं मरम्मत कार्य हो रहे हैं वही सामुदायिक स्वास्थ्य पर जाने वाला रास्ता भी साफ-सुथरा व स्वच्छ होने के कगार पर है आपको बताते चलें अभी विगत दिनों पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जाने वाले रोड पर कार्य लगा हुआ था जो अब अंतिम चरण पर है आज लगभग 50 मीटर के रोड पर सीसी रोड बनाने का कार्य पुरा हो जाएगा और लगभग दो-चार दिनों में इस रोड का कार्य पूर्ण हो सकता है जो आती सराहनीय कार्य है क्योंकि जब से यह रोड खराब हुआ था तब से यहां पर आने वाले मरीजों और उनके तीमारदारों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था क्योंकि रोड में इतने बड़े-बड़े गड्ढे हुए थे कि लोगों की बाइक अक्सर गिर जाती थी जिसे लोग घायल हो जाते थे और बारिश के दिनों में पूरे रोड पर जलजमाव की स्थिति हो जाती थी जिसके कारण उधर से आने जाने वाले राहगीरों व मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था अब इस कार्य को पूर्ण हो जाने से यहां पर आने वाले प्रत्येक नागरिक को सहूलियत व आसानी होगी जिसका सारा श्रेय अधीक्षक महोदय व पत्रकार प्रवीण श्रीवास्तवको जाएग

आंगनबाड़ी का प्रयोजन विफल नहीं होती छोटे बच्चों के निगरानी

सकलडीहा। सकलडीहा बाजार दुर्गा माता मंदिर पोखरे के पास प्राथमिक विद्यालय दो जो पहले कन्या पाठशाला के नाम से जाना जाता था वहां पर आंगनवाड़ी के ना आने से वहां पर पढ़ने वाले बच्चों के परिवार वाले काफी गुस्से में थे उन्होंने कहा एक तो वैसे ही स्कूल काफी दिनों से बंद था ऊपर से आंगनबाड़ी की कार्यकत्री लोग आए दिन आंगनवाड़ी बंद कर कर कहीं न कहीं घूमती रहती हैं और पूछने पर साफ संतुष्ट जवाब नहीं देती है और अगर कोई शिकायत करता है तो उनके अभिभावक उन के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल करते हैं उनकी दबंगई इस प्रकार बड़ी हुई कि चुनाव पर्ची भी अपने समय से लोगों तक नहीं पहुंची जबकि इनकी ड्यूटी भी बीएलओ के रूप में लगी हुई थी

Tuesday, March 8, 2022

विधानसभा का चुनाव सकुशल हुआ संपन्न

सकलडीहा। विधानसभा सकलडीहा में 7 मार्च को चुनाव सकुशल संपन्न हुआ जिसमें छुटपुट घटनाओं के साथ पूरे विधानसभा में चुनाव का कार्यक्रम शांतिपूर्ण और अच्छे प्रतिशत के साथ शाम को 6:00 बजे समाप्त हुई सकलडीहा विधानसभा में प्राथमिक विद्यालय पर 3 बूथ बनाए गए थे जिसमें 300/ 301 और 302 जहां सुबह 7:00 बजे से ही मतदान प्रारंभ था जहां छोटे बड़े अमीर गरीब सभी लोगों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया जहां पर सुबह 8:00 के बाद इतनी लंबी लाइन लग गई कि लोग बूथ पर जाकर भी वापस लौट आए जो दोबारा दोपहर 2:00 बजे लगे तो शाम को 3:00 3:30 बजे वोट देकर खाली हुए सुबह से ही 301 नंबर बूथ पर इतनी लंबी लाइन लगीजो शाम को 6:00 बजे तक भी खत्म नहीं हुई परंतु नियम तो नियम है जो लोग 6:00 बजे तक गेट के अंदर थे उनका तो पड़ गया बाकी काफी लोग वोट देने से वंचित रह गए इस बार भी कई लोगों के वोटर लिस्ट से नाम गायब थे जिसके कारण उन लोगों में काफी मायूसी दिखी वह लोग कभी बीएलओ तो कभी चुनाव अधिकारी को कोसते नजर आए उन्होंने कहा कि हर बार हम लोगों का नाम लिस्ट में जोड़ा जाता है फिर भी वोटर लिस्ट में नाम नहीं आता इसमें कहीं ना कहीं चुनाव विभाग व बीएलओ की कमियां नजर आ रही है एक बीएलओ से हमने बात की कि आपने सब की पर्चियां उसके घर क्यों नहीं पहुंचाई तो उन्होंने कहा जिलाधिकारी महोदय से कह दीजिए कि पर्चियां पहले दे दिया करें 3 दिन में पर्ची मिली है तो कहां से पर्ची पहुंचाएंगे जहां तक हुआ वहां तक पहुंचाया गया है

आईपीएफ ने पुलिस कर्मियों पर जो हत्याकांड में लिप्त हैं उन पर 302 का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग उठायी*

चन्दौली /  *योगी जी सरकार का तुरंत न्याय देने की बुलडोजर केवल अल्पसंख्यकों, दलितों, कमजोर तबका पर ही चलता हैं जब उनके सरकार  में...