कौन कहता है कि जिन्दगी सच नही होती

लोगो का नजरिया ही जिन्दगी को कम अांकती है